परिजनों को बिना बताए नहाने गए थे छह बच्चे,तीन डूबे

0
30

गोपालगंज।

सिधवलिया थाना क्षेत्र के बुचेया गांव के तालाब में डूबने से एक साथ तीन बच्चों की मौत की खबर आने के बाद पूरे गांव में मातम का माहौल कायम हो गया है। तीनों मृत बच्चों के परिजनों को सांत्वना देने के लिए पूरा गांव उनके दरवाजे पर उमड़ पड़ा। गांव के लोग बच्चों के परिजनों को सांत्वना देकर चुप कराने की प्रयास कर रहे थे। लेकिन बच्चों की मां उनके कपड़ों से लिपटकर रो रही थी। तीनों बच्चों की मां बस एक ही बात कह रही थी अगर हमनी लइकवन के कबो पोखरा में नहाए ना जाए देती सन।

ग्रामीणों ने बताया कि सिधवलिया थाना क्षेत्र के बुचेया गांव के तीन मासूम बच्चे रवि कुमार, बुलेट कुमार व विशाल कुमार अपने ही गांव के तीन अन्य हम उम्र बच्चों के साथ रविवार को अपने घर के लोगों को बिना बताए चुपके से नहाने के लिए तालाब की ओर गए थे। गांव के बाहर चंवर में स्थित इस तालाब की ओर गांव के लोगों का आना-जाना भी कम ही रहता है। ऐसे में तालाब में बच्चों के जाने की भनक भी किसी को कानों कान नहीं हो सकी। तालाब में नहाने व मौज मस्ती करने के लिए बच्चे अपना कपड़ा उतार कर तालाब में घुस गए। तालाब में नहाने के दौरान छह में से तीनों बच्चे अचानक गहराई की तरफ चले गए। जहां तीनों अचानक डूबने लगे। तीनों बच्चों को देखकर तालाब में नहा रहे अन्य तीन बच्चे भी तालाब से बाहर निकल गांव की तरफ भागे और इसकी जानकारी बच्चों के परिजनों को दी। परिजन व गांव के लोग जब तक बच्चों को तालाब से निकाल कर पीएचसी तक ले जाते तब तक काफी देर हो चुकी थी। तीनों बच्चों की मौत की खबर सुन पूरे गांव के लोग मृत बच्चों के दरवाजे पर पहुंच गए। बच्चों की मां को रोते देखकर गांव के अन्य लोगों की आंखें भी नम हो गई। बच्चों की मां रोते हुए बस एक ही बात कह रही थी कि हमरा से चोरी चुपके नहाए गईले ह, हम जानत रहती त ना जाए देती हो। परिजनों की चीख पुकार सुन कर गांव के लोग भी सदमे में आ गए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here