पति को मुखाग्नि देकर परंपरा को दी चुनौती, कायम की मिसाल

0
28

बिहार।

भोजपुर में एक महिला ने अपने मृत पति को मुखाग्नि देकर समाज में एक नया मिसाल कायम किया है। उसने सिर्फ अपने पति को मुखाग्नि ही नहीं दी बल्कि उसने मरणोपरांत निभाए जाने वाली सारी सामाजिक परंपराओं का निर्वहण भी किया।

मिली जानकारी के मुताबिक गांव की एक महिला सोनामति के पति विश्वंभर मिश्र की असमय मौत हो गई। एक तरफ पति के जाने का दुख और दूसरी तरफ मुखाग्नि से लेकर कर्मकांड करने की चिंता थी। सोनामति की अपनी न तो कोई संतान थी और न ही अपना कोई रिश्तेदार।

सामाजिक परंपराओं के मुताबिक उसे अपने पति को प्रेत योनि से भी मुक्ति दिलानी थी। लेकिन आज भी हमारे समाज ये काम सिर्फ पुरुष ही करते आ रहे हैं। बावजूद इसके, मृत पति को प्रेत योनि से मुक्ति के लिए शास्त्रोक्त विधि से सोनामति ने न सिर्फ मुखाग्नि दी, बल्कि श्राद्ध संपन्न कराते हुए सारे कर्मकांडों को पूरा किया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here