अमित कुमार,समस्तीपुर बिहार:कल्याणपुर थाना क्षेत्र के मिर्जापुर गांव में गुरुवार की शाम चचेरे देवर ने अपनी भाभी को धारदार हथियार ( हशूली,जिससे तार और खजूर के पेड़ को छेब कर तारी निकाला जाता है)से गला रेतकर हत्या कर दिया। मामले में पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्डम के लिए समस्तीपुर भेज दी है। वही आरोपी देवर को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है। मृतक महिला की पहचान मिर्जापुर गांव निवासी लालबाबू दास की 30 वर्षीय पत्नी कविता देवी के रूप में हुई है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार कविता के पति लालबाबू दास राजमिस्त्री के साथ मजदूर का काम किया करता है। इसी सिलसिले में वह सवेरे आठ बजे घर से निकल जाया करता था। जो देर रात तक अपने घर वापस लौटता था। इस बीच पड़ोस के ही लक्ष्मण दास का पुत्र सूरज कुमार से रिश्ते को लेकर नजदीकियां बनी हुई थी। ग्रामीणों का बताना है कि पिछले कुछ दिनों से दोनों के बीच अनबन जैसा माहौल था। अचानक गला रेतकर हत्या कर दिए जाने की बात सामने आने पर लोगों ने कविता के कातिलों की तलाश शुरू की। जिसके बाद पहला सुराग कविता का 4 वर्षीय पुत्र अमन कुमार के बयान से ही मिला। जो बार-बार तुतलाकर बोल रहा था की सूरज चाचा ने ही मां का गला काट दिया। इसी आधार पर जैसे ही सूरज व उसके भाई के घर पर आने की सूचना प्राप्त हुई। जुटे ग्रामीण उसे दबोचने के ख्याल से उसकी ओर दौड़ने लगी। मौके की नजाकत को भांपते हुए कल्याणपुर थाना के पुलिस के द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए लक्ष्मण दास के दोनों पुत्र सूरज व मुकेश को अपने कब्जे में लेते हुए भारी मशक्कत करते हुए भीड़ से बचाकर किसी तरह थाने ले आया। इसके बाद ग्रामीण थाने पहुंच उसका विरोध करने लगे। वह हत्या के बदले उसी परिणाम की बात कहते हुए कुछ समय के लिए दरभंगा समस्तीपुर मुख्य पथ भी जाम किया। जिसे पुलिस ने समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। इस घटना के बाद से एक ओर जहां गांव के लोग मातम में है। वही सूरज के परिजनों के विरोध गांव वालों में जबरदस्त आक्रोश भी है। इस बाबत थानाध्यक्ष मधुरेंद्र किशोर का बताना है कि गिरफ्तार दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है ,जल्द ही मामले का उद्भेदन करने की बात कही।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here