संयुक्त परिवार में हो रहे झगड़े को पुलिस ने ऐसे सुलझाया, हो रही सराहना

0
9

हरदा  ।

प्रतिनिधि पुलिस ने अनोखी पहल कर एक संयुक्त परिवार को टूटने से बचा लिया। दरअसल, परिवार में आए दिन लडाई-झगडे हो रहे थे। इसकी शिकायत परिवार की बहू ने थाने में की। इसके बाद पुलिस ने जांच की तो सामने आया कि 17 सदस्यों वाले घर में सिर्फ एक शौचालय है। यही झगडे की असली वजह है। पुलिस ने एक अतिरिक्त शौचालय बनवाकर विवाद जड से खत्म कर दिया। अंजुम पति इरफान ने हरदा थाने में एक लिखित आवेदन देकर सास नजमा, ससुर, देवर और ससुराल पक्ष के अन्य लोगों पर आरोप लगाया था कि वह आए दिन उसे पीटते हैं।

इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि विवाद का मुख्य कारण 17 सदस्यों के संयुक्त परिवार के बीच घर में केवल एक शौचालय का होना है। एक शौचालय होने के कारण ही आए दिन विवाद हो रहे थे। पुलिस ने सकारात्मक पहल कर ससुराल पक्ष के लोगों को घर में एक और शौचालय बनवाने के लिए राजी कर लिया। शौचालय निर्माण का आधा पैसा थाने ने दिया और आधा परिवार ने लगाया। पुलिस की इस अनोखी पहल से न केवल उस परिवार का विवाद खत्म हो गया, बल्कि एक संयुक्त परिवार टूटने से भी बच गया।

‘पुलिस ने हमारा परिवार टूटने से बचा लिया’ शिकायतकर्ता अंजुम की सास नजमा ने कहा कि मेरे बेटे इरफान की दो साल पहले अंजुम से शादी हुई थी। मैंने कई बार संयुक्त परिवार का हवाला देते हुए समझाया लेकिन अंजुम एक शौचालय में एडजस्ट नहीं कर पा रही थी। जब अंजुम शिकायत करने थाने गई तो बाद में हम भी पहुंच गए।

पुलिस ने बेहतर और सकारात्मक पहल की है। इस तरह से विवाद के कारण को खत्म कर संयुक्त परिवार को टूटने से बचाया, यह सराहनीय है। इस अच्छी पहल के लिए प्रधान आरक्षक संजय ठाकुर को मेरी ओर से नगद इनाम दिया जाएगा। – राजेश कुमार सिंह, एसपी हरदा

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here