न्यूज  डेस्क:  ज्ञात हो कि अभी केन्द्र सरकार  एवं बिहार सरकार द्वारा  पर्यावरण  को लेकर एक मुहिम चलाई जा रही है । इस अभियान अर्थात पर्यावरण संरक्षण अभियान को पूर्वी चंपारण जिले में गहरा धक्का लगा है। कदम के करीब 50 हरे पेड़ों की कटाई जिले के केसरिया प्रखंड अन्तर्गत सेमुआपुर पंचायत में असमाजिक तत्वों के द्वारा की गयी है। मनरेगा योजना के तहत वर्षों पूर्व लगाये गये इन हरे पेड़ों की अवैध कटाई की सूचना सेमुआपुर के निवासी सनोज साह ने सोमवार को एक आवेदन के जरीय केसरिया प्रखंड के कार्यक्रम पदाधिकारी {पीओ}मुनेश कुमार को दी। हरे पेड़ की अवैध कटाई की सूचना मिलते ही केसरिया प्रखंड कार्यालय में हड़कंप मच गया। त्वरित कार्रवाई करते हुए कार्यक्रम पदाधिकारी ने सेमुआपुर के पंचायत रोजगार सेवक अखिलेश कुमार से स्थलीय जांच कर प्रतिवेदन की मांग की। मंगलवार को रोजगार सेवक द्वारा प्रतिवेदन दिये जाने के बाद प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी श्री कुमार ने आज स्वंय सेमुआपुर पहुंच कर मामले की जांच की। डेली बिहार न्यूज से बातचीत में कार्यक्रम पदाधिकारी ने बताया कि करीब पचास की संख्या में कदम के हरे पेड़ों की कटाई की गयी है। पेड़ों की अवैध कटाई से पर्यावरण संरक्षण को लेकर भारी नुकसान पहुंचा है। उन्होंने बताया कि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले बख्शे नहीं जायेंगे। इस मामले में विधि सम्मत कार्रवाई की जा रही है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here