प्रशांत कुमार,बक्सर:शादी-शुदा महिला से इश्क करना युवक के लिए जानलेवा साबित हुआ। इस प्यार का राज तब खुला जब अभिषेक की हत्या हो गई। दुर्भाग्य ऐसा की शव भी परिजनों के हाथ नहीं लगा। इस हत्या को दुर्घटना का रूप देने के लिए महिला ने शव को परिजनों की मदद से रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। लेकिन अभिषेक की तलाश में जुटी पुलिस अंतत: गीता तक पहुंच ही गई। उसे हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आज बुधवार को उसे जेल भेजा जा रहा है। इसकी जानकारी डुमरांव डीएसपी के के सिंह ने दी।

कैसे हुई अभिषेक की हत्या
बक्सर खबर। प्रेम प्रसंग का यह मामला ब्रह्मपुर थाना के ढ़ोढऩपुरा गांव का है। चौबीस वर्षीय युवक अभिषेक कुमार सिंह को गांव में रहने वाली गीता देवी से प्यार हो गया। उसका पति निर्मल राम गैर प्रदेश में रहकर नौकरी करता है। घर में अकेल रहने वाली गीता युवक के संपर्क में आ गई। दोनों के बीच नाजायज संबंध स्थापित हो गए। इस बीच उसे पता चला कि अभिषेक की शादी तय हो गई है। उसने भी कहा मुझे अपने साथ रखो नहीं तो जान दे दूंगी। उसे समझाने के लिए गीता के घर गया। उनके बीच कहा-सूनी हुई। गीता कोई बात मानने को तैयार नहीं था।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here