पूर्व प्रभारी कुलपति व रजिस्ट्रार के खिलाफ होगी कार्रवाई

0
15

भागलपुर।

तिलकामांझी भागलपुर विवि प्रशासन पूर्व प्रभारी कुलपति डॉ. एनके वर्मा व रजिस्ट्रार के उपर कार्रवाई की तैयारी में लग गया है। विवि प्रशासन राजभवन को पत्र लिखने जा रहा है जिसमें इसके लिए अनुमति मांगी जाएगी।

मंगलवार को सिंडिकेट की बैठक में इस मामले पर गंभीरता से विचार किया गया। बताया जा रहा है कि वो मामले जिस पर राजभवन स्पष्ट रूप से विवि प्रशासन को कार्रवाई का आदेश दिया है। उस पर सबसे पहले कार्रवाई होगी। साथ ही वो आदेश जो स्पष्ट नहीं है। इस पर विवि प्रशासन राजभवन से परामर्श लेगा। राजभवन से दिशा निदेश के बाद कुलपति डॉ. नलिनी कांत झा कार्रवाई करेंगे।

वहीं इस मामले को लेकर बीस दिसम्बर को राजभवन में राजपाल ने बैठक बुलाया है। विवि ने किस तरह की कार्रवाई मामला सामने आने के बाद किया है इसकी जानकारी खुद राजपाल लेने वाले है।

यहीं बता दे कि तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. एनके वर्मा के कार्यकाल में हुई कार्यो की जांच के लिए चंद्रा कमेटी का गठन किया गया था।

पूर्व प्रभारी कुलपति डॉ. नीलाबुज किशोर वर्मा के कार्यकाल में 28 अप्रैल 2013 से छह फरवरी 2014 तक लिए गए सभी निर्णय और की गई नियुक्ति, प्रोन्नति तथा सेवा नियमितीकरण रद होना लगभग तय हो गया था। डॉ. वर्मा के कार्यकाल में गड़बड़ियों के लगे आरापों की जाच करने वाली राजभवन की कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में अनुशसा की है कि पूर्व कुलपति के समय लिए गए निर्णय गलत थे। इन्हें रद किया जाए।

पूर्व प्रभारी कुलपति प्रो. एनके वर्मा ने 117 अतिथि व्याख्याताओं की नियुक्ति कर दी थी।

————————————————-

जल्द नियुक्ति प्रकिया आरंभ करे विवि प्रशासन

पूर्व प्रभारी कुलपति डॉ. एनके वर्मा के कार्यकाल में नियुक्त अतिथि व्याख्याताओं ने बुधवार को बैठक कर अपनी मांग विवि प्रशासन के सामने रखा। नवनियुक्त व्याख्याता संघ के अध्यक्ष डॉ. आनंद आजाद ने मांग रखते हुए कहा कि सिंडिकेट की बैठक में कुलपति से कहा गया कि वो सभी कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं की पुन नियुक्ति प्रक्रिया तीस दिन के अंदर पूरी कर ले। इसके जबाव में कुलपति ने कहा कि वो पंद्रह दिन के अंदर सभी अतिथि व्याख्याताओं को फिर ने कानूनी रूप से बहाल करेंगे। ऐसे में कुलपति से हमारी मांग है कि वो इस प्रकिया को जल्द से जल्द आरंभ करे। विवि ने नियुक्ति प्रकिया आरंभ किया था जिसके बाद हमारी नौकरी हुई। इसमें हमारी कोई गलती नहीं है। ऐसे में हमें मौका जल्द से जल्द दिया जाए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here